आपकी उपयोगी रचनाओं एवं टिप्पणियों का स्वागत है.

उपयोगी सूचना

हिन्दी भाषा के समाचारपत्र तथा पत्रिकाएं यदि अपने प्रकाशनों के लिए ‘मीडिया केयर नेटवर्क’, ‘मीडिया एंटरटेनमेंट फीचर्स’ तथा ‘मीडिया केयर न्यूज’ की सेवाएं नियमित प्राप्त करना चाहें तो हमसे ई-मेल द्वारा सम्पर्क करें। आपके अनुरोध पर सेवा शुल्क संबंधी तथा अन्य अपेक्षित जानकारियां उपलब्ध करा दी जाएंगी।

हम इन फीचर एजेंसियों के डिस्पैच में निम्नलिखित विषयों पर रचनाएं प्रसारित करते हैं तथा डिस्पैच कोरियर अथवा ई-मेल द्वारा उपलब्ध कराए जाते हैं:-

राजनीतिक लेख, रिपोर्ट एवं विश्लेषणात्मक टिप्पणी, राष्ट्रीय एवं अंतर्राष्ट्रीय चर्चा, सामयिक लेख, फिल्म लेख एवं स्टार इंटरव्यू, फिल्म गॉसिप, ज्ञानवर्द्धक एवं मनोरंजक लेख, रहस्य-रोमांच, घर परिवार, स्वास्थ्य, महिला जगत, युवा जगत, व्यंग्य, कथा-कहानी, मनोरंजन, कैरियर , खेल, हैल्थ अपडेट, खोज खबर, महत्वपूर्ण दिवस, त्यौहारों अथवा अवसरों पर लेख, बाल कहानी, बाल उपयोगी रचनाएं, रोचक जानकारियां इत्यादि।

लेखक तथा पत्रकार विभिन्न विषयों पर अपनी उपयोगी अप्रकाशित रचनाएं प्रकाशनार्थ ई-मेल द्वारा भेज सकते हैं।
Share/Bookmark

अभी तक यहां आए पाठक

Wednesday, August 28, 2013

यूपी के सपा नेता कॉल गर्ल्स के साथ मस्ती करते गिरफ्तार




उत्तर प्रदेश की समाजवादी सरकार के दो बड़े नेता अलग-अलग स्थानों पर कॉल गर्ल्स के साथ रंगरलियां मनाते गिरफ्तार किए गए हैं, जिनमें एक हैं सपा नेता जितेन्द्र कुमार और दूसरे हैं सपा विधायक महेन्द्र सिंह.

बता दें कि जितेन्द्र कुमार को मुजफ्फरनगर की थाना सिविल लाइन पुलिस ने महावीर चौक स्थित रेड कॉरपोरेट होटल पर संयुक्त रूप से छापामारी कार्रवाई करते हुए वहां से रंगरलियां मनाते गिरफ्तार किया है जबकि उत्तर प्रदेश के सीतापुर इलाके से समाजवादी पार्टी के विधायक महेंद्र सिंह को गोवा के एक होटल में 6 कॉल गर्ल्स के साथ रगंरलियां मनाते गिरफ्तार किया गया है. इन विधायक महोदय पर तो इससे पहले भी दबंगई व हत्या के कई मामले चल रहे हैं


ऐसे में यह सवाल उठना क्या स्वाभाविक नहीं है कि क्या यही है मुलायम सिंह यादव या अखिलेश यादव की समाजवादी पार्टी का असली समाजवादी चेहरा?

4 comments:

रविकर said...

सत्य -
आभार-

चूजा के पीछे पड़ा, भाषण प्रवचन भ्रष्ट |
कोई गोवा बीच पर, गया मिटाने कष्ट |
गया मिटाने कष्ट, मस्तियाँ मार बराबर |
गुंडागर्दी देख, डरा जाता है रविकर |
उत्तर नहीं प्रदेश, काम की होती पूजा |
रति अनंग हैं मस्त, ढूंढ़ता मुर्गा चूजा ||

रविकर said...

आपकी उत्कृष्ट प्रस्तुति का लिंक लिंक-लिक्खाड़ पर है ।। त्वरित टिप्पणियों का ब्लॉग ॥

रविकर said...

आपकी उत्कृष्ट प्रस्तुति का लिंक लिंक-लिक्खाड़ पर है ।। त्वरित टिप्पणियों का ब्लॉग ॥

मदन मोहन सक्सेना said...

वाह . बहुत उम्दा,सुन्दर व् सार्थक प्रस्तुति
कभी यहाँ भी पधारें
http://saxenamadanmohan.blogspot.in/
http://saxenamadanmohan1969.blogspot.in/

समय बहुमूल्य है, अतः एक-एक पल का सदुपयोग सार्थक कार्यों में करें.